बैकु΄ठपुर@43 महीने पूर्व दुष्कर्म के बाद किशोरी को जान से मारने वाले आरोपी को मिली उम्र कैद सजा

240
Share


एक आरोपी पर अपहरण,हत्या,दुष्कर्म का मामला,2 आरोपियों पर था अपहरण का मामला

बैकु΄ठपुर 15 नवम्बर 2021 (घटती-घटना)। कोरिया जिले के पटना थाना अंतर्गत 4 वर्ष पूर्व हुए किशोरी के दुष्कर्म एवं हत्या के मामले में जिला सत्र न्यायालय ने आरोपी को उम्रकैद की सजा दी है।
इस पूरे मामले में मिली जानकारी के अनुसार मृतिका और आरोपी खसरा निवासी कृष्णा तिर्की उर्फ दुर्गा का प्रेम संबंध था। घटना दिवस 24 अप्रैल 2018 रात्रि 8ः00 बजे आरोपी कृष्णा तिर्की अपने दोस्त गोरेलाल खलखो और आकाश के सहयोग से किशोरी को घर से बाहर बुलाकर बाइक क्रमांक सीजी 16 सीडी 0 328 पर बैठाकर खंडवा थाना अंतर्गत ग्राम तोलगा शादी समारोह में ले गया वहां किशोरी के साथ शारीरिक संबंध बनाने के बाद भोर में 4ः00 बजे उसे कूड़ेली छोड़ने वापस लेकर आया। किशोरी अपने घर वापस जाने के बजाए बोलने लगी कि मुझे अपने साथ रख लो और शादी करके अपने घर ले चलो लेकिन आरोपी पहले से शादीशुदा था और वह मृतिका को अपने घर नहीं ले जाना चाहता था इसी बात को लेकर दोनों में विवाद बढ़ गया तब आरोपी कृष्णा उर्फ दुर्गा ने किशोरी के साथ मारपीट कर उसकी हत्या कर दी और उसके बाद उसे फांसी के फंदे पर लटका दिया ताकि लोगों को यह लगे कि यह आत्महत्या है। इस मामले में पट तत्कालीन पटना थाना प्रभारी आनंद सोनी ने इस मामले में धारा 376 (क), 376(2), 302, 201 पास्को एक्ट 6 के अंतर्गत मामला पंजीबद्ध कर विवेचना किया था। इस मामले को सुलझाने में तत्कालीन पटना थाना प्रभारी आनंद सोनी के अलावा क्राइम ब्रांच प्रभारी शिवेंद्र राजपूत की टीम का भी अहम योगदान रहा है।

काफी जटिल फिर भी पुलिस ने 48 घंटे में सुलझाया था मामला

थाना पटना के अंतर्गत नाबालिक लड़की के साथ दुश्कर्म कर हत्या कर दी गई थी जिसका खुलासा पुलिस ने 48 घंटे में कर दिया। पर न्यायिक रिमांड़ के बाद पटना थाने लाया गया जहां पर जांच के दौरान पुलिस ने अपहरण दुष्कर्म और हत्या के आरोपी कृष्णा तिर्की उर्फ दुर्गा को बनाया एवं गोरे लाल खलखो 19 वर्ष व प्रकाश 22 वर्ष के खिलाफ अपहरण का मामला पंजीबद्व कर तीनों आरोपियों को पुलिस द्वारा न्यायिक रिमांड़ के बाद को जेल दाखिल किया गया था। फांसी के फंदे पर नाबालिक लड़की का शव मिला था जिसे देखकर आशंका व्यक्त किया जा रहा था कि उसके साथ दुष्कर्म हुआ है इस संदेह पर पटना थाना प्रभारी आनंद सोनी, क्राईम ब्रांच प्रभारी शिवेन्द्र राजपूत अपनी टीम के साथ उच्च अधिकारियों के मार्ग निर्देशन में जांच में जुट गए, पीएम रिपोर्ट में नाबालिक लड़की के साथ दुष्कर्म व मारपीट होने की पुष्टि हुई उसके बाद पुलिस संदेह के आधार पर आरोपियों को ढूंढ़ने में जुट गई। फोरेंसिक जांच के लिए भेजा गया था पुलिस द्वारा तीनों आरोपियों के नाखून, नाबालिक लड़की का बिसरा व खून पिजर्व कर फोरेंसिक जांच के लिए भेजा गया है ताकि की घटना की पूरी सच्चाई जांच के साथ सामने आ सके। कुछ ऐसा न रह जाए जिससे आरोपी को लाभ मिले और वह बच जाए।

एक ही आरोपी ने शव को अकेले टांगा था पेड़ पर

आरोपी कृष्णा तिर्की ने पुलिस को बताया कि वह अकेले ही इस घटना को अंजाम दिया है तब पुलिस द्वारा उसे घटना स्थल पर ले जाकर जिस तरह से नाबालिक के शव को फांसी पर लटकाया उसी तरह से पुतले को आरोपी से फांसी पर लटकवाया गया, जिसकी वीडियो रिकार्डिंग भी की गई जिससे कि साबित हो सके कि आरोपी वास्तव में अकेले ही घटना को अंजाम दिया है या नहीं।

थाना प्रभारी आनंद सोनी ने कहा कि घटना में शामिल मोटर साईकिल, घटना स्थल पर मिले कपड़ा, फांसी में लटकाने के लिए प्रयोग किया गया दोनों गमछी को जप्त किया गया है। मृतका के शरीर में खरोंच के निशान थे इसलिए आरोपियों के नाखून कटवाकर पिजर्व कर फारेंसिक लैब भेजा जा रहा है और पुलिस अब जांच में जुट गई है इसमें जो भी तथ्य सामने आएगा उसे इस मामले से जोड़ा जाएगा। ताकि आरोपी को सझा मिला सके आज हमारे द्वरा इतने सक्ष्य जुटाए गए थे की आज माननीय न्यायालय ने भी आरोपी को दोषी पाते हुए सजा सुनाई ताकि पीडि़त के परिजनों को न्याय मिल सके।

आनंद सोनी
पूर्व थाना प्रभारी


Share