Breaking News

बैकु΄ठपुर@कोरिया बचाओ मंच के 41 वें दिन में श्रमिक संघ एचएमएस के पदाधिकारी हुये शामिल

Share

बैकु΄ठपुर 03 अक्टूबर 2021 (घटती-घटना)। कोरिया विभाजन के बाद से कोरिया बचाव के लिये कोरिया बचाओं मंच बनाया गया है जिसे 41 दिन बीतने को है इस 41 दिन में सभी धर्म, समुदाय के साथ विभिन्न राजनैतिक दलों से जुड़े लोग जो कोरिया का हित चाहते है वह इस मंच से अपना विरोध जताते हुये कोरिया बचाने का संकल्प ले चुके है। 41 दिन श्रमिक संघ एचएमएस के पदाधिकारी कोरिया बचाओं मंच में शिरकत कर अपना विरोध जताया और कोरिया बचाओ मंच में आकर अपना समर्थन दिया। श्रमिक संघ एचएमएस के क्षेत्रीय अध्यक्ष हरि यादव ने कहा कि कोरिया का विभाजन किसी भी स्वरूप में नहीं होना चाहिऐ और यदि किया जा रहा है तो सारी स्थिति से अवगत होकर दोनों जिलों को समान रूप से महत्व देना चाहिए। कोरिया में खडगवां व सोनहत को अलग करने पर भी यहां के लोगों को नये जिला बनने का उन्हें को विशेष लाभ नहीं मिल रहा है। वन मंडल व खनिज सम्पदा को ध्यान में रखते हुये दोनों जिलों को बांटना चाहिऐ। इन सबसे बाद सबसे विशेष बात तो यह है कि सरगुजा के चार जिले में सबसे कम ब्लाक वाला जिला कोरिया होने के बाद इसे भी टुकड़ो में विभाजित करना कही से उचित प्रतीत नहीं होता। राजनीति ऐसी की विभाजित हुये गांवो को लाभ नहीं और लॉलीपाप दिया जा रहा है सिर्फ नाम रखने से क्या उन्हें जिला विभाजन का लाभ मिल पायेगा। यह बात वर्तमान सरकार को सोचनी चाहिऐ। श्रमिक संघ एचएमएस के योगेन्द्र मिश्रा ने भी अपना वक्तव्य देते हुये कहा कि हम कोरिया जिला का विभाजन कहीं से भी न्याय संगत नहीं है और कांग्रेस की भूपेश सरकार दूरस्थ ग्रामीण अंचलों में रहने वालों के साथ अन्याय कर रही है। किसी भी स्थिति में कोरिया जिला ही वर्तमान में अलग हुये ब्लाक के लिये अच्छा है। यह विभाजित होकर भी उन्हें कोई विशेष लाभ मिलता नहीं दिख रहा है। कोरिया बचाओं मंच पर दिनेश शर्मा, कौशलेन्द्र त्रिपाठी, अजय सिंह, लालबहादुर सिंह, आशीष शुक्ला, यशपाल सिंह, राजेश प्रसाद अग्निहोत्री, प्रदीप कुमार सिंह, ज्ञानेन्द्र पाण्डेय, केदारनाथ मंडल, प्रमोद कुमार सिंह, नंदलाल मांझी, संतलाल, रामवृक्ष, दिनबंधुराम के साथ कई लोग उपस्थित रहे।


Share

Check Also

रायपुर,@10 बाल आरोपी माना संप्रेक्षण गृह से हुए फरार

Share ‘ रायपुर,29 जून 2024 (ए)। राजधानी रायपुर के माना में स्थित बाल संप्रेक्षण गृह …

Leave a Reply

error: Content is protected !!