बैकु΄ठपुर@क्वांटिफायबल आयोग के अध्यक्ष ने पिछड़ा वर्ग के प्रतिनिधियों से किया संवाद

124
Share

बैकु΄ठपुर 03 अक्टूबर 2021 (घटती-घटना)। मंटिफायबल आयोग के अध्यक्ष जस्टिस सीएल पटेल और उनकी टीम ने कोरिया जिला मुख्यालय पहुंचकर जिले के पिछड़ा वर्ग अंतर्गत आने वाले विभिन्न समुदाय के प्रतिनिधियों से संवाद किया और संगठन के पदाधिकारियों से इस कार्य में सहयोग करने का आवाहन किया। इस दौरान विभिन्न संगठनों के पदाधिकारी व षासकीय सेवक उपस्थित रहे। जिला मुख्यालय पहंुचे आयोग के अध्यक्ष जस्टिस श्री पटेल ने कहा कि गत 1 सितंबर से यह कार्य पूरे प्रदेश स्तर पर प्रारंभ किया गया है। इसके अंतर्गत पिछड़ा वर्ग से संबंधित 94 जातियों के समस्त परिवारों का डाटा एकत्रीकरण का कार्य किया जा रहा है। इसके लिए प्रत्येक नगरीय निकाय के सभी वार्डों में तथा ग्राम पंचायत स्तर पर दो ग्राम पंचायतों के बीच एक सुपरवाइजर को जिम्मेदारी प्रदान की गई है। इस आयोग के माध्यम से पिछड़ा वर्ग के सभी परिवारों के साथ सामान्य वर्ग के आर्थिक रूप से पिछड़े परिवारो का सर्वे कार्य कराया जा रहा है। यह अभियान आगामी 12 अक्टूबर तक चलेगा। उन्होने सभी समाज के उपस्थित पदाधिकारियों को अवगत कराया कि राज्य ष्षासन की तकनीकी संस्था चिप्स के माध्यम से एक एप्प सीजीक्यूडीसी बनाया गया है जिसे गूगल के प्ले स्टोर से डाउनलोड करके संबंधित परिवार अपना डाटा स्वयं आनलाइन भी दर्ज करा सकते हैं।
सभी को अवगत कराते हुए आयोग के अध्यक्ष श्री पटेल ने कहा कि आप अपने आस-पास के सभी पात्र परिवारों को तकनीकी और डिजिटल माध्यम का उपयोग करने के लिए प्रोत्साहित करें ताकि यह कार्य समय सीमा में पूरा हो सके। उन्होने इस आयोग के गठन के उद्देष्य और कार्य करने के तरीके के बारे में विस्तार से जानकारी दी। उन्होने कहा कि ग्राम पंचायतों में मुनादी के साथ ही नगरीय क्षेत्रों में भी मुनादी करते हुए इस सर्वे कार्य को प्रोत्साहित किया जा रहा है। श्री पटेल ने सभी को पंजीयन की आनलाइन प्रक्रिया के बारे में विस्तार से जानकारी देते हुए पिछड़ा वर्ग एवं आर्थिक रूप से कमजोर परिवारों के आम नागरिकों से इस प्रक्रिया को बेहतर बनाने संबंधी सभी सुझावों को भी गंभीरता से सुना।कार्यक्रम में मुख्य रूप गणेश राजवाड़े, चांदनी सोनी, अरूण साहू, कृष्ण कुमार राजवाड़े, संगीता राजवाड़े, कमल कांत साहू, मुन्नी राजवाड़े, रीता पटेल, राहुल जायसवाल, नरेश जायसवाल, चूडामन दास, राजेश राजवाड़े, रमाशंकर साहू, रामचंद्र राजवाड़े, अनिल जायसवाल, राजेश साहू, रविशंकर राजवाड़े एवं बिहारी लाल राजवाड़े उपस्थित रहे।


Share