पांच दिन से लापता युवक की गांव के ही एक कुएं में मिली लाश,परिजन व ग्रामीणों ने किया चक्काजाम

107
Share


मामला शांतिपारा का…परिजन व स्थानीय लोगों को उग्र होता देख एएसआई को किया गया लाइन हाजिर

अंबिकापुर/बतौली 27 सितम्बर 2021 (घटती-घटना)। सरगुजा जिले के बतौली थाना क्षेत्र अन्तर्गत शांति पारा में एक व्यक्ति की लाश गांव के ही एक कुएं में मिली है। वह पिछले पांच दिन से लापता था। इसकी रिपोर्ट थाने में दर्ज कराई गई थी। युवक की लाश मिलने से क्षेत्र में सनसनी फैल गई। दरअसल पांच दिन पूर्व मृतक के लापता होने पर परिजन थाना पहुंच कर रिपोर्ट दर्ज कराई थी। इस दौरान थाना प्रभारी द्वारा मृतक के परिजनों के ऊपर पल्ला झाड़ते हुए गुमशुदा व्यक्ति कोई सेलिब्रिटी है क्या कि हम तत्काल कार्रवाई करेंगे ऐसे शब्दों का प्रयोग किया गया था।
पुलिस की इस कार्यप्रणाली पर सवाल खड़े करते हुए मृतक के परिजन सहित ग्रामीणों ने एनएच 43 पर चक्काजाम कर दिया। इस दौरान नाराज लोगों ने पुलिस के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। इस मामले एएसआई लाइन संतोष तिवारी को लाइन हाजिर कर दिया। इसके बाद परिजनों ग्रामीणों को समझाइश दी तब जाकर चक्काजाम समाप्त किया गया।
जानकारी के अनुसार नरेंद्र मिश्रा पिता कृष्ण मिश्रा उम्र 42 वर्ष बतौली थाना क्षेत्र के शांति पारा का निवासी था। वाह 22 सितंबर से घर से लापता था। परिजन अपने अस्तर से खोज बीन की पर उसे कहीं पता नहीं चला था। परिजन ने बताओ जी थाना पहुंचकर गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज कराई थी। वहीं 27 सितंबर की सुबह नरेंद्र मिश्रा की लाश गांव के ही एक कुएं में मिली। शव कुंए मैं पीठ के बल था। लापता युवक की लाश मिलने से क्षेत्र में सनसनी फैल गई। ग्रामीण व परिजनों ने घटना के बाद से पुलिस की कार्यप्रणाली पर सवाल खड़ा कर दिया। इसके बाद मृतक के परिजनों सहित हजारों की संख्या में ग्रामीण शांति पारा स्थित एनएच-43 पर चक्काजाम कर दिया। चक्का जाम की खबर मिलते ही बतौली पुलिस मौके पर पहुंची जिन्हे आक्रोशित ग्रामीणों ने उन्हें भी मौके से भगा दिया।

4 घंटे तक चला चक्काजाम

घटना के बाद पुलिस की कार्यप्रणाली पर सवाल खड़ा करते हुए परिजन व ग्रामीणों ने चक्का जाम कर दिया। सूचना पर बतौली पुलिस मौके पर पहुंची पर ग्रामीणों ने वहां से भगा दिया। इसके बाद अनुविभागीय अधिकारी सीतापुर मौके पर पहुंचे और आक्रोशित ग्रामीणों को वह भी समझा पाने में नाकाम रहे। सूचना अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक विवेक शुक्ला मौके पर पहुंचे। और लोगों को समझाने की कोशिश की। काफी समझा इसके बाद जाम को समाप्त किया गया। इस दौरान लगभग 4 घंटे चक्का जाम किए जाने से सड़क के दोनों और वाहनों की लंबी लाइन लग गई।
एएसआई लाइन हाजिर
परिजन व ग्रामीणों का आरोप था कि पांच दिन पूर्व मृतक के लापता होने पर परिजन थाना पहुंच कर रिपोर्ट दर्ज कराई थी। पुलिस कार्य प्रणाली को लेकर लोगों में काफी नाराजगी थी। इस मामले में एपी ने तत्काल कार्रवाई करते हुए एएसआई लाइन संतोष तिवारी को लाइन हाजिर कर दिया है।

शॉर्ट पीएम मैं हत्या की पुष्टि नहीं

घटना के संबंध में सरगुजा एसपी अमित तुकाराम कामले ने पत्रकारों को बताया कि 5 दिन से लापता युवक की लाश गांव के ही एक कुएं में मिली है। परिजन द्वारा गुमशुदगी का रिपोर्ट दर्ज कराया गया था। पुलिस तत्काल कार्रवाई शुरू कर दी थी। लाश मिलने के बाद परिजन व स्थानीय लोगों में नाराजगी स्वभाविक है। परिजन व स्थानीय लोगों को उग्र होता देख तत्काल एसआई संतोष तिवारी को लाइन हाजिर कर दिया गया है। इस मामले में भी जांच कराई जाएगी उसके बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी। वही फॉरेंसिक एक्सपर्ट व प्रारंभिक दृष्टियां हत्या का मामला स्पष्ट नहीं हो रहा है। फिलहाल पीएम रिपोर्ट आने के बाद ही इस मामले में आगे की कार्रवाई की जाएगी।


Share