कुआं में गिरा ऑटो दो की मौत एवं तीन घायल कुएं से निकलने के बाद चालक हुआ फरार

39
Share

रामानुजगंज 25 सितम्बर 2021 (घटती-घटना)। जिले के रामचंद्रपुर थाना अंतर्गत ग्राम कालिकापुर में छः सवारी से भरा टेंपो सड़क से लगे कुएं में जा गिरा जिसमें दो लोगों की मौके पर ही मृत्यु हो गई है बाकी शेष लोगों को बचा लिया गया है हल्का-फुल्का चोट लगने के कारण उनका प्राथमिक उपचार कराया जा रहा है। पुलिस सूत्रों से प्राप्त जानकारी के अनुसार सवारी लेकर टेंपो रिक्शा चालक कलिकापुर जा रहा था कि रास्ते में ही सड़क किनारे एक कुआं में जा गिरा जिसके कारण नीलकंठपुर निवासी दयाशंकर यादव की पत्नी देव मुनि यादव कि डूबने से मृत्यु हो गई वही
दूसरे भाई गुड्डू यादव की पुत्री माल यादव की भी मृत्यु हो गई एक ही परिवार के 2 सदस्यों के मृत्यु के बाद ग्राम नीलकंठपूर में शोक का माहौल है। घायलों में जीतन कोड़ाकु एवं उसका लड़का सहित महिला आरक्षण दाऊदीन कुजूर को हल्के फुल्के चोटे आई है जिन का इलाज सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र रामचंद्रपुर में चल रहा है वही ड्राइवर शहाबुद्दीन अंसारी कुवे से निकलने के बाद मौके से फरार हो गया है जिसकी पुलिस खोजबीन कर रही है। उक्त घटना सुबह करीब 9:30 से 10:00 के बीच बताई जा रही हैं घटना की सूचना मिलते ही रामचंद्रपुर थाना प्रभारी फरदीनानन्द कुजूर एवं आरक्षको में अरविंद सिंह अजमल खान संतोष गुप्ता ओमप्रकाश सिंह कांग्रेश सिंह रविंद्र चौधरी मौके पर पहुंचकर गांव वालों की मदद से बारी बारी से सभी को बाहर निकाला गया इधर शवो को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है। उक्त टेंपो अनिरुद्ध पुर के शहाबुद्दीन कि बताई जा रही है।

पुलिस अधीक्षक ने पहले ही किया था सचेत

जिले के पुलिस अधीक्षक रामकृष्ण साहू ने आज से दो-तीन माह पहले ही जिला पंचायत सीईओ सहित जिले के सभी जनपद सीईओ को पत्र लिखकर इस बात से अवगत कराया था कि सड़क किनारे बने हुए कुओं को बिल्कुल खुला छोड़ दिया गया है जिसके कारण कभी भी दुर्घटना घटित हो सकती है इसलिए सड़क किनारे इस कुओं को चारों ओर से बाउंड्री वाल करा दिया जाए। लेकिन उनके सुझाव को जिला पंचायत सीईओ एवं जनपद के सीईओ ने नजरअंदाज करते हुए उस कार्य को पूर्ण नहीं किया। जिसका खामियाजा आज जनपद पंचायत रामचंद्रपुर के ग्राम पंचायत नीलकंठपुर निवासियों को अपनी जान गवानी पड़ी इस जिले में प्रशासनिक लापरवाही के कारण कई घटना कारीत हो रहे हैं बावजूद इसके कोई ध्यान नहीं दिया जा रहा है जिसके कारण जिले वासियों को प्रशासनिक लापरवाही के कारण अपनी जान गंवानी पड़ रही है।


Share