रायपुर @यूपी सरकार ने सीएम भूपेश के एयर क्राफ्ट को लखनऊ लैंडिंग पर लगाई रोक

65
Share

रायपुर, 04 अक्टूबर 2021 (ए)। रुमुख्यमंत्री भूपेश बघेल आज सुबह 9 बजे लखीमपुर के लिए निकलने ही वाले थे कि एयरपोर्ट अथॉरिटी का पत्र उन्हें मिला। जिसमे सीएम भूपेश के विमान को लखनऊ हवाई अड्डे पर उतरने की अनुमति नहीं देने की जानकारी दी गई। जिसके कारण उनका लखीमपुर का दौरा रद्द हो गया है।
दरअसल, मुख्यमंत्री भूपेश बघेल सोमवार को सुबह उत्तरप्रदेश के लखीमपुर खीरी जाने वाले थे। जहां बीते दिनों केंद्रीय गृह राज्यमंत्री अजय मिश्रा के बेटे अभिषेक की गाड़ी से जिन किसानों की मौत हुई थी, उनके परिजनों से ष्टरू भूपेश मिलने जा रहे थे। इससे पहले ही ष्टरू भूपेश बघेल को रोकने के लिए उप्र सरकार के एसीएस अवनीश अवस्थी ने हवाई अड्डा प्राधिकरण को पत्र लिख दिया है। एसीएस अवस्थी ने एयरपोर्ट अथॉरिटी के डायरेक्टर को पत्र भेज लखीमपुर में धारा 144 का हवाला देते हुए भूपेश बघेल के विमान को उतरने की इजाजत न देने का आग्रह किया हैं। इसके साथ ही पंजाब के डिप्टी सीएम को भी रोका गया है।
सीएम भूपेश ने साधा यूपी सरकार पर निशाना
ऐसे में लखनऊ के चौधरी चरण सिंह हवाई अड्डा में विमान उतरने की अनुमति नहीं मिलने के कारण ष्टरू भुपेश का लखीमपुर दौरा रद्द हो गया है। दौरा रद्द होने से भूपेश ने उत्तरप्रदेश सरकार को आड़े हाथों लिया है। उन्होंने कहा कि भाजपा की सरकार विपक्ष से डरी हुई है। देश के मौलिक अधिकार का हनन किया जा रहा है और उत्तरप्रदेश में नागरिक अधिकार समाप्त हो चूका है। ऐसा लग रहा है कि अब यूपी जाने के लिए भी वीजा की जरुरत पड़ेगी।
उन्होंने अपने ट्वीट करते हुए कहा कि उत्तरप्रदेश की सरकार मुझे राज्य में न आने देने का फरमान जारी कर रही है। क्या उत्तरप्रदेश में नागरिक अधिकार स्थगित कर दिए गए हैं? अगर धारा 144 लखीमपुर में है तो लखनऊ उतरने से क्यों रोक रही है तानाशाह सरकार?”
इधर प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंह देव ने भी उत्तरप्रदेश सरकार के रवैये पर नाराजगी जाहिर की है। उन्होंने अपने ट्वीट में लिखा कि छत्तीसगढ़ को अनुमति नहीं देने का आदेश तानाशाही पूर्ण है। बीजेपी ऐसा दिखावा कर रही है जैसे यूपी एक तानाशाह के अधीन एक अधिनायकवादी राज्य है।


Share