छत्तीसगढ़ ने रचा कीर्तिमान,आयुष्मान कार्ड पंजीयन में देश में अव्वल

50
Share


राज्य में 15 से 30 सितंबर तक आयुष्मान पखवाड़ा


रायपुर,22 सितम्बर 2021 (ए)। आयुष्मान भारत प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना डॉ. खूबचंद बघेल स्वास्थ्य सहायता योजना में छत्तीसगढ़ ने लगातार कीर्तिमान कायम रखा है। प्रदेश में निवासरत 86 फीसदी परिवारों में से किसी एक सदस्य का आयुष्मान कार्ड का पंजीयन हो चुका है।
16 सितम्बर 2018 से छत्तीसगढ़ में प्रारंभ हुई आयुष्मान भारत प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना डॉ. खूबचंद बघेल स्वास्थ्य सहायता योजना के सभी क्षेत्रों में राज्य ने अपनी महत्त्वपूर्ण भूमिका अदा की है, जो कि सभी राज्यों के लिए एक उदाहरण बना है। प्रदेश की 44 फीसदी आबादी ऐसी है, जिनका आयुष्मान कार्ड का पंजीयन हो चुका है, अब ये हितग्राही अनुबंधित अस्पतालों में जा के अपना आयुष्मान कार्ड दिखाकर सीधे योजना का लाभ ले सकते हैं। राज्य में “आपके द्वार आयुष्मान” अभियान के तहत् लगभग 01 करोड़ 05 लाख हितग्राहियों के आयुष्मान कार्ड का पंजीयन किया गया था। पंजीकृत हितग्राहियों को संबंधित चॉइस सेंटर से ही पीवीसी आयुष्मान कार्ड (प्लास्टिक) उपलब्ध कराए जा रहे हैं।


रचा कीर्तिमान


आपके द्वार आयुष्मान अभियान के तहत छत्तीसगढ़ ने पूरे देश में कीर्तिमान रचा था। 01 मार्च से 30 अप्रैल 2021 तक चले इस अभियान में 25 मार्च की तारीख कीर्तिमान के रूप में दर्ज है। इस एक ही दिन में राज्य ने 06 लाख 26 हजार से अधिक आयुष्मान कार्ड का पंजीयन किया। पूरे अभियान के दौरान 97 लाख से ज्यादा आयुष्मान कार्ड का पंजीयन किया गया।


कार्ड पंजीयन में देश में तीसरे स्थान पर


राष्ट्रीय स्वास्थ्य प्राधिकरण के आंकड़ों के अनुसार छत्तीसगढ़ आयुष्मान कार्ड पंजीयन के मामले में देश में तीसरे स्थान पर हैं। राज्य में योजना की शुरूआत से अभी तक लगभग 01 करोड़ 37 लाख हितग्राहियों का आयुष्मान कार्ड पंजीयन किया जा चुका हैं और यह क्रम अनवरत जारी हैं। पखवाड़े के दौरान भी प्रदेश भर में बड़े पैमाने पे आयुष्मान कार्ड का पंजीयन किया जा रहा हैं।


Share